जयराम महतो की मुश्किलें बढ़ी, चुनाव आयोग ने 7 मई को अपनी नामांकन स्थिति स्पष्ट करने के लिए नोटिस किया जारी…


Picsart_24-03-04_04-01-19-666
Picsart_22-05-25_12-04-24-469
Picsart_24-04-04_11-48-44-272
Picsart_23-03-27_18-09-27-716

गिरिडीह से लोकसभा चुनाव का पर्चा दाखिल करने के बाद JBKSS प्रत्याशी जयराम महतो की मुसीबतें काफी बढ़ गयी हैं। सबसे पहते तो नामांकन के बाद रांची पुलिस ने बोकारो से उन्हें गिरफ्तार के लिए पहुंचा था लेकिन जयराम महतो के आग्रह पर सभा को सम्बोधित करने का अनुमति दिया गया जिसके बाद जयराम महतो पुलिस के नजरो से फरार चल रहें हैं। जयराम की गिरफ्तारी रांची में 2022 में विधानसभा घेराव के मामले को लेकर हैं। फिलहाल जयराम महतो के पार्टी के चार कार्यकर्ता को पुलिस में गिरफ्तार कर लिया हैं।अब निर्वाचन आयोग ने उन्हें नोटिस भेजा है। इस नोटिस में कहा गया है कि वह 7 मई को आयोग के आफिस में आकर अपने नामांकन को लेकर अपनी स्थिति स्पष्ट करें। चुनाव आयोग के अनुसार उनके नामांकन पत्र में उनके प्रस्तावकों के हस्ताक्षर को लेकर भ्रम की स्थिति है। चुनाव आयोग ने प्रस्तावकों के हस्ताक्षर को संदेहास्पद बताया है।

चुनाव आयोग ने अपने नोटिस में कहा है कि ‘….आपके द्वारा 01.05.2024 को 06-गिरिडीह लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र के निर्वाची पदाधिकारी के समक्ष 3 सेट में नामांकन पत्र दाखिल किया गया है। आपके द्वारा समर्पित नाम निर्देशन पत्र में उल्लेखित प्रस्तावकों में से सभी का हस्ताक्षर संदेहास्पद प्रतीत हो रहा है, जिसका सत्यापन अधोहस्ताक्षरी द्वारा किया जाना आवश्यक है…’।

इस सूचना के साथ 7 मई को जयराम महतो को सभी प्रस्तावकों एवं उनके वैध पहचान-पत्र के साथ निर्वाची पदाधिकारी, 06 गिरिडीह लोकसभा क्षेत्र में उपस्थित होने का आदेश दिया है।

-Advertisment-

15 Dec Giridih Views
Stepping Smiles
Picsart_23-02-13_12-54-53-489
Picsart_24-02-06_09-30-12-569
Picsart_22-02-04_22-56-13-543

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You cannot copy content of this page