समाहरणालय सभागार कक्ष में नीति आयोग द्वारा संचालित संपूर्णता अभियान का शुभारंभ किया गया…


Picsart_24-03-04_04-01-19-666
Picsart_22-05-25_12-04-24-469
Picsart_24-04-04_11-48-44-272
Picsart_23-03-27_18-09-27-716

गिरिडीह– आज समाहरणालय सभागार कक्ष में उप विकास आयुक्त, सदर अनुमंडल पदाधिकारी, सिविल सर्जन, जिला समाज कल्याण पदाधिकारी, जिला शिक्षा पदाधिकारी समेत अन्य अतिथियों ने दीप प्रज्ज्वलित कर नीति आयोग द्वारा संचालित संपूर्णता अभियान का शुभारंभ किया। 

इस दौरान उप आयुक्त, श्री दीपक कुमार दूबे ने मीडिया बंधुओं को संबोधित करते हुए कहा कि

नीति आयोग द्वारा आकांक्षी जिला एवं प्रखण्ड कार्यक्रम अन्तर्गत Indicator Wise saturation के निमित्त 09 Indicators का चयन करते हुए संबंधित क्षेत्रों में Saturation हेतु तीन माह का “सम्पूर्णता अभियान” प्रारंभ करने का निर्णय लिया गया है। उन्होंने कहा कि नीति आयोग भारत सरकार की अति महत्वपूर्ण योजना है। नीति आयोग के 112 आकांक्षी जिलों में गिरिडीह भी एक जिला तथा प्रखंडों में जमुआ प्रखंड चयनित है। इसके तहत जिले एवं जमुआ प्रखंड में विभिन्न गतिविधियों का संचालन किया जा रहा है। नीति आयोग द्वारा संचालित तीन माह का “सम्पूर्णता अभियान के तहत इंडिकेटर वाइज सैचुरेशन के निमित्त सभी 09 इंडिकेटर्स में प्रगति करने की आवश्यकता है। उन्होंने सभी संबंधित विभागों को एक्शन प्लान तैयार कर समन्वय स्थापित करते हुए सभी इंडिकेटर में प्रगति सुनिश्चित करने का निर्देश दिया। कार्यक्रम के दौरान उप विकास आयुक्त ने कहा कि सभी पैरामीटर में पूरी पारदर्शिता और तन्मयता के साथ कार्य करें, जिससे कि नीति आयोग के सभी मानकों में प्रगति हासिल किया जा सके। इसके अलावा उन्होंने कहा कि हेल्थ एवं न्यूट्रिशन पर विशेष फोकस करने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि क्षेत्र भ्रमण कर सभी पैरामीटर पर कार्य करें। साथ ही शिक्षा, स्वास्थ्य, बुनियादी ढांचे, कृषि, जल संसाधन, वित्तीय समावेशन और कौशल विकास के विभिन्न क्षेत्रों में किए जा रहे कार्यों में तेजी लाएं ताकि आने वाले तीन महीनों में शत-प्रतिशत लक्ष्य को हासिल किया जा सकें। उन्होंने शिक्षा विभाग को जिन विद्यालयों में विद्युतीकरण नहीं किया गया है, उन विद्यालयों में विद्युतीकरण करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि इलेक्ट्रिसिटी डिपार्टमेंट से समन्वय स्थापित कर विद्यालयों में शीघ्र ही इलेक्ट्रिसिटी की सुविधा उपलब्ध कराया जाय। टेक्स्टबुक डिस्ट्रीब्यूशन को सैचुरेशन मोड में कराएं। साथ ही उन्होंने सभी संबंधित अधिकारियों और कर्मियों को आपसी समन्वय के साथ कार्य करने का निर्देश देते हुए कहा कि कल्याणकारी योजनाओं को सफल बनाना हमारी प्राथमिकता होनी चाहिए। 

कार्यक्रम के दौरान सदर अनुमंडल पदाधिकारी, श्री श्रीकांत या विसुप्त ने कहा कि

नीति आयोग द्वारा संचालित संपूर्णता अभियान एक महत्वपूर्ण कार्यक्रम है। जिसके तहत नीति आयोग के सभी मानकों में प्रगति सुनिश्चित की जानी है। उन्होंने कहा कि सम्पूर्णता अभियान के तहत् तीन माह का कार्य योजना तैयार कर रोस्टर के अनुरूप प्रत्येक दिन का गतिविधि का संचालन करें एवं निर्धारित लक्ष्य को हर हाल में पूर्ण करना सुनिश्चित करें। इस अभियान के तहत सभी गर्भवती महिलाओं का प्रसव पूर्व जांच कार्य को हर हाल में करना है। साथ ही डायबिटीज तथा उच्च रक्तचाप का स्क्रीनिंग तथा उच्च रक्तचाप, आईसीडीएस का एक सूचकांक गर्भवती महिलाओं को पूरक पोषण आहार उपलब्ध कराना है। कृषि विभाग का एक सूचकांक सोशल हेल्थ कार्ड का वितरण एवं शिक्षा विभाग का दो सूचकांक पहला सभी माध्यमिक विद्यालय में बिजली की सूविधा तथा सभी बच्चों को पाठ्य पुस्तक उपलब्ध कराना से संबंधित सूचकांक के उपलब्धि से संबंधित सूचकांक को शत प्रतिशत लक्ष्य प्राप्त करना है। 

कार्यक्रम में सिविल सर्जन, डॉ एसपी मिश्रा ने कहा कि

 नीति आयोग के तहत सभी 09 मानकों में प्रगति लाने हेतु 3 महीनों का संपूर्णता अभियान निर्धारित किया गया है। इसमें फेज वाइज एक्शन बनाकर कार्य करने की आवश्यकता है ताकि योजनाओं में वृद्धि लाया जा सकें। उन्होंने कहा कि इन तीन महीनों में फर्स्ट ANC के तहत जांच, गर्भवती महिलाओं का लिस्ट बनाकर उसका नियमित जांच करवाना, गर्भवती महिलाओं के बीच कीट उपलब्ध कराना, ANC कार्ड का वितरण, प्रॉपर जांच आदि किया जाएगा। इसके साथ ही उन्होंने आंगनबाड़ी केंद्र में बुनियादी सुविधाओं जैसे वेइंग मशीन, हिमोग्लोबिनोमीटर आदि की उपलब्धता सुनिश्चित कराई जायेगी। ताकि गर्भवती महिलाएं भी सरकारी सुविधाओं का लाभ ले सकें। उन्होंने बताया कि सुरक्षित मातृत्व अभियान के तहत गर्भवती महिलाओं का आइडियल डिलीवरी, ANC जांच, प्रसव जांच आदि कराया जा रहा है। उन्होंने कहा कि इस अभियान के तहत फुल इम्यूनेजेशन भी जरूरी है। साथ ही आंगनबाड़ी केदो के माध्यम से भी प्रॉपर जांच की सुविधा उपलब्ध कराई जाए। साथ ही साथ मोबाइल यूनिट या एक्स्ट्रा प्लान के तहत छूटे हुए बच्चों को भी एक सप्ताह के अंदर कवर किया जायेगा। तथा मोबाइल यूनिट के माध्यम से THR भी उपलब्ध कराया जाय। इसके अलावा उन्होंने कहा कि संपूर्णता अभियान के तहत पीवीजीटी ग्रुप में हाउस टू हाउस सभी कार्यक्रम किए जाय, जिससे कि वहां के लोगों का इसका उचित लाभ मिल सकें। उन्होंने कहा कि इस अभियान के तहत कुपोषित बच्चों का स्क्रीनिंग कराया जायेगा। साथ ही डायबिटीज, ब्लड प्रेशर आदि की भी जांच की जायेगी। उन्होंने सभी moic/आंगनबाड़ी वर्कर को निर्देश दिया कि नीति आयोग के सभी मानकों में पूरा सहयोग करेंगे। 

लक्ष्य प्राप्ति के लिए दिलाया गया शपथ…

समाहरणालय सभागार कक्ष में आयोजित नीति आयोग द्वारा संचालित संपूर्णता अभियान के तहत उप विकास आयुक्त, श्री दीपक कुमार दूबे ने सभी पदाधिकारियों और कर्मियों को लक्ष्य प्राप्ति के लिए शपथ दिलाई। इस दौरान मैं प्रतिज्ञा करता/करती हूँ कि अपने ब्लॉक/जिला को संपूर्णता अभियान के सभी इंडिकेटरों को संतृप्त करने के लिए कार्य करूंगा/करूंगी और योगदान दूंगा/दूंगी। मैं अपने ब्लॉक/जिला को स्वस्थ, समर्थ और समृद्ध बनाऊंगा/बनाऊंगी, और इसे एक प्रेरणादायक ब्लॉक/जिला बनाने की दिशा में कार्य करूँगा / करूँगी।

हम यह सुनिश्चित करने का लक्ष्य रखते हैं कि…

1. गर्भवती महिलाओं को समय पर घर प्रसव पूर्व देखभाल मिले।

2. गर्भवती महिलाओं को पूरक पोषण प्राप्त हो।

3. सभी बच्चों का पूर्ण टीकाकरण हो।

4. हर व्यक्ति की मधुमेह और उच्च रक्तचाप की नियमित जांच हो।

5. सॉयल हैल्थ कार्ड का वितरण हो।

6. स्व-सहायता समूहों को रिवॉल्टिंग फंड्‌स मिले। 

7. स्कूलों में बुनियादी सुविधाएं उपलब्ध हों। 

Picsart_24-03-22_12-10-21-076
Picsart_24-03-22_12-11-20-925
Picsart_24-03-22_12-08-24-108
Picsart_24-03-22_12-13-02-284

इसके अलावा उप विकास आयुक्त व अन्य वरीय अधिकारियों के द्वारा सांकेतिक रूप से दस कृषक मित्रों को सॉयल हेल्थ कार्ड का वितरण किया गया। इसके साथ ही कुल 450 कृषक मित्र के बीच सॉयल हेल्थ कार्ड का वितरण किया गया। कार्यक्रम में जिला कोषागार पदाधिकारी ने सभी का धन्यवाद ज्ञापित किया।

कार्यक्रम में उपरोक्त के अलावा जिला समाज कल्याण पदाधिकारी, जिला शिक्षा पदाधिकारी, जिला जनसंपर्क पदाधिकारी, जिला कृषि पदाधिकारी, जिला कोषागार पदाधिकारी, जिला शिक्षा अधीक्षक, उपनिदेशक, आत्मा, डीपीएम, एनएचएम, नीति आयोग के ब्लॉक कोऑर्डिनेटर, श्री रितेश कुमार, पिरामिल फाउंडेशन के जिला समन्वयक, जिला समन्वयक, यूनिसेफ, पिरामिल फाउंडेशन के प्रतिनिधि, कृषक मित्र, प्रेस मीडिया के प्रतिनिधि समेत अन्य संबंधित अधिकारी उपस्थित थे।

-Advertisment-

15 Dec Giridih Views
Stepping Smiles
Picsart_23-02-13_12-54-53-489
Picsart_24-02-06_09-30-12-569
Picsart_22-02-04_22-56-13-543


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You cannot copy content of this page